बेवजह # rk 71


आसमान के वो आँसू ना जाने क्यूँ गुम थे उसने तो कुछ कहा नही हम भी तो चुप थे बारिश … More

Ignorance #rk 67


” No one wishes to waste their time on us And we started wasting ours.”