Back off while you carry negativity?


When you can't give something positive to people around you, you cut off yourself from them. Is it right? Is it not? I had this question since I stopped writing on wordpress. I mean this was the place where I used to motivate others, or take a glimpse of their thoughts to mine. I had … Continue reading Back off while you carry negativity?

रास्ते मंजिल और जाने क्या


रास्ते मंजिल और जाने क्या छोड़ आए हैं हम न जाने कहाँ है वास्ता खुदी से ना किसी से यारी चल रहे हैं हम हो दुखी संसारी है पता कि गम है बाँटते नहीं हैं खुद में हो परेशान वजह जाँचते नहीं हैं क्षण भर की छाँव को समझते अपनी चादर गागर भर की चाह … Continue reading रास्ते मंजिल और जाने क्या