Categories
 NaPoWriMo2020 Patriotism

Salute


Salute to Soldiers, the bravery, the hope, that stood before us, to fight and cope. Salute to the workers, to detach and detente, that undermined all seethes, with accord and vigor. Salute to the Doctors, to cure all nopes. that saved people’s lives, with bravery and force. Salute to all citizens, to follow and join, […]

Categories
Patriotism social issues

Quarantine : Not a joke


People are risking their lifes for our safety, they are all requesting us to stay inside, don’t panic, follow the safety rules. Some would say it isnt much, don’t make a buzz of everthing. We know everything, don’t mind we keep ourselves safe, we do follow these rules. I guess they are right, who are […]

Categories
inspirational poetries Patriotism social issues

Quarantine Poem


Well in this situation of Quarantines, we all have all leisure that we ever wanted, but we feel like trapped, don’t we! So this quarantine poem goes like this: Well, we all do know, it’s really well tight. Nothing much to do, full days and night. Days deviating, and nights with heights. With hope that […]

Categories
Patriotism

कैद कर लो


कैद लो तुम मुझे इन गलियों के घरौंदों में। कैद कर लो कि मुझमें, अब भी जीने की चाह है।

Categories
Patriotism

सर्वप्रथम केवल भारतीय बनो


आँखें नम, दिल हैरान और दिमाग में कई सवाल हुए आखिर क्या था शब्दों में, कुकर्म सरेआम हुए माना सवाल जरूरी थे, अब तो उन्हें चैन से सोने दो सैनिक ना सही, हो गये भेंट, राजनीति की भेंट ना चढने दो हिन्दुस्तानी हो चाहे पाकी, आवाम तो शान्तिप्रिय रही घर का बुझे कोई दीपक, किसको […]

Categories
Patriotism

प्यार नही अब नफरत बाकी #rk 94


प्यार नही अब नफरत बाकी दिल है साफ नही कोई माफी दिल में राख आँख के शोले ना कोई दस्तक ना कोई साखी आँख के पर्दे हट जाने दो दिलो मे नफरत बँट जाने दो मिट्टी का इंसाफ तू करना घंटे भर का काम ही काफी काफी़ …घंटे भर का काम ही काफी प्यार नही […]

Categories
Patriotism thoughts

भारत पर अंकुश #india #rk 9


क्या है न….. हमे बचपन से ही सिखाया जाता है-“पढोगे,लिखोगे तो बनोगे -नवाब;खेलोगे ,कूदोगे होगे………..” खैर ये बाते तो हमारे अंदर कूट कूट के भर दी जाती है,लोगो की नजर मे रास्ते भी आसान ही होते है….. मगर… मगर वक्त के साथ लोगो की सोच कही थम सी क्यो जाती है, अंग्रेजो की चाल भी […]